This page has moved to a new address.

Public Limited और Private Limited company में क्या difference होता है ?

AchchiKhabar.Com: Public Limited और Private Limited company में क्या difference होता है ?

Friday 10 December 2010

Public Limited और Private Limited company में क्या difference होता है ?



यदि आपने ध्यान दिया होगा तो अक्सर हमें कंपनी के नाम के आगे लिमिटेड लिखा हुआ दिख जाता है.कहीं Private Ltd  तो कहीं Limited या Public Limited लिखा होता है . Limited या public limited में confuse होने कि ज़रूरत नहीं है दोनों एक ही चीज है.

तो क्या आप जानते हैं कि private  और public limited कंपनियों में क्या अंतर होता है?
यदि आपको इसका सही उत्तर पता है तो बड़ी अच्छी बात है क्योंकि भले ही ये प्रश्न एक बड़ा ही सीधा साधा प्रश्न है पर जब कभी मैंने इसे किसी group से पूछा है तो बमुश्किल 10-15% लोगों को ही सही उत्तर पता होता है. आज भी जब मैंने कुछ Engineering College के फ्रेशेर्स की training के दौरान ये question पूछा तो वही पुराना ज़वाब आया. एक महानुभाव ने Public Ltd कंपनी को सरकारी कंपनी बताया और बाकियों को private बतलाया. ज्यादातार लोग शायद यही सोचते है, पर देवियों और सज्जनो ये गलत ज़वाब है . सही जवाब बड़ा सीधा साधा सा है.
Public limited या private limited  में जो अंतर है वो शेयरों की वजह से होता है. अगर बड़े ही simple way में समझना हो तो ये बात गाँठ बंद लीजिए की जो भी कंपनी किसी Stock Exchange, जैसे BSE या NSE पे listed है, वह एक Public Limited Company ही होगी. 
ध्यान देने की बात है अगर वह listed ना भी हो तो भी वह एक public limited कंपनी हो सकती है. जैसे कि Coal India Ltd  पहले से ही एक पब्लिक लिमिटे कंपनी है पर वह अभी हाल ही में stock exchange पर list हुई है.
Private Ltd. कंपनी के सभी शेयर कुछ गिने चुने लोगों के पास ही होते हैं. जो generally  उस कंपनी के प्रमोटर होते हैं. जबकि public limited company  के शेयर कोई भी ले सकता है.और एक बात ध्यान देने कि ये है कि पब्लिक लिमिटे कंपनी सरकारी भी हो सकती है, जैसे ONGC,Indian Oil. और प्राइवेट भी, जैसे Reliance, Infosys. 
यदि एक tabular form में संक्षेप मैं कहें तो अंतर निम्नलिखित है :

Public Limited Company
Private Limited Company
शेयरों का स्वामित्त्व
किसी के भी पास हो सकता है
कुछ गिने-चुने लोगों के पास ही हो सकता है
Minimum Shareholders
           7
                2
Maximum Shareholders
कितने भी हो सकते हैं
               50
Stock Exchange लिस्टिंग
संभव है
असंभव है
उदाहरण
Dabur India Ltd, GAIL,etc
Google India Pvt Ltd. ,MakeMyTrip,etc



निवेदन: यहाँ दी गयी जानकारी आपको कैसे लगी? आप के सुझाव हमारे लिए बहुमूल्य हैं. कृपया comments के माध्यम से हमें बताने का कष्ट करें.Thanks!  

यदि आपके पास कोई अच्छी ख़बर या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते
हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी Id है:  achchikhabar@gmail.com
पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. Thanks!


Labels:

5 Comments:

At Saturday, December 11, 2010 , Blogger Patali-The-Village said...

सही जानकारी देने के लिए धन्यवाद|

 
At Tuesday, December 14, 2010 , Blogger Jitendra Sisoidya said...

Verry Good News

 
At Thursday, February 03, 2011 , Anonymous Anonymous said...

jahapanah tussi great ho

 
At Wednesday, July 06, 2011 , Blogger Bhulan kumar shah said...

thanq

 
At Friday, July 15, 2011 , Blogger BARI G2 said...

Thanks a lot

 

Post a Comment

Subscribe to Post Comments [Atom]

Links to this post:

Create a Link

<< Home